Sharing is caring!

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने दो परीक्षाओं को वापस करवाने का फैसला किया है. सीबीएसई कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के एक-एक पेपर को दोबारा करवाएगा. बोर्ड दसवीं कक्षा के गणित और 12वीं कक्षा के इकोनॉमिक्स की परीक्षा दोबारा करवाएगा. आरोप लग रहे थे कि ये दोनों पेपर लीक हो गए थे और परीक्षा से पहले ही सोशल मीडिया पर इनके पेपर वायरल हो गए थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पेपर लीक पर नाराजगी व्यक्त की है.

दोबारा ली जाने वाली परीक्षा की तिथि आने वाले एक सप्ताह में जारी की जाएगी. छात्र इसकी जानकारी बोर्ड की वेबसाइट से ले सकते हैं.

मालूम हो कि 12वीं इकनॉमिक्स की परीक्षा 27 मार्च और 10वीं गणित की परीक्षा 28 मार्च को हुई थी. सीबीएसई ने बताया है कि परीक्षा की तारीख की घोषणा एक सप्ताह के भीतर वेबसाइट पर कर दी जाएगी.

इस साल 5 मार्च से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं शुरू हुई थीं. इन परीक्षाओं में देशभर से 28 लाख, 24 हजार, 734 परीक्षार्थी शामिल हुए थे. सीबीएसई के मुताबिक इस साल दसवीं की परीक्षा में 16 लाख, 38 हजार, 428 और बारहवीं की परीक्षा में 11 लाख, 86 हजार, 306 परीक्षार्थी रजिस्टर हुए थे.

CBSE: 10वीं का मैथ्स और 12वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर दोबारा होगासरकारी सूत्रों के अनुसार छात्रों को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है और छात्रों के हितों का ध्यान रखा जाएगा. वहीं गणित के पेपर लीक से जुड़े गिरोह के बारे में पता लगा लिया गया है. सरकार दोबारा होने वाली परीक्षा में पेपर लीक से बचने के लिए एक सुरक्षित सिस्टम लाने की कोशिश कर रही है. बोर्ड जल्द से जल्द इस परीक्षा का आयोजन करेगा और अगले हफ्ते तक परीक्षा की तारीखों का ऐलान भी कर दिया जाएगा.

वहीं प्रकाश जावड़ेकर ने पेपर लीक को लेकर कहा है कि सीबीएसई पेपर लीक रोकने के लिए सरकार ने कड़े कदम उठाए. साथ ही उन्होंने कहा है ‘इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर एग्जामिनेशन सेंटर्स को भेजा जाएगा. आधा घंटे पहले सेंटर्स को इलेक्ट्रॉनिक पेपर भेजा जाएगा.

 

Sharing is caring!