Sharing is caring!

आज हम आपको एक ऐसी घटना बताने जा रहे है जिसे देखकर आप ब्रमित हो जायगे की शराब इंसान हो क्या क्या करा देती है.दुनियां भर में होने वाले ज्यादातर अपराध भी शराब के नशे में किए जाते हैं. शराब के नशे में किया गया ऐसा ही एक अपराध उत्तराखंड के चमोली जिले में देखा गया हैं. यहाँ सतीश कुमार नाम का एक युवक रात में एक बाबा के साथ बैठ शराब और भांग का नशा कर रहा था. अगले दिन झाड़ियों में बाबा की खून से लतपत लाश पाई गई.जानते है केसे हुआ ये सब

खबर के मुताबिक उत्तराखंड के चमोली जिले के गैरसैण के सिलंगी गाँव की हैं. यहाँ पुलिस को एक स्थानीय व्यक्ति का कॉल आया था कि झाड़ियों के बीच एक अज्ञात बाबा की लाश पड़ी हुई हैं. सुचना मिलते ही क्षेत्राधिकारी मिथिलेश सिंह और थानाध्यक्ष रवीन्द्र नेगी पुलिस टीम संग घटना स्थल पर पहुँच गए. यहाँ उन्होंने घटना स्थल का अच्छे से निरिक्षण किया. लाश के सिर पर चोट के निशान थे. इसलिए उसे पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय गोपेश्वर भिजवा दिया गया. उधर जांच पड़ताल और गाँव के लोगो से पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि सिलंगी गाँव में एक बाबा पिछले तीन चार दिनों से सतीश कुमार नाम के शख्स के घर रह रहा था.

ऐसे मिले सुराग

यहाँ घर के बाहर ही खून के साथ घसीटे जाने के निशान थे. साथ ही घर के अन्दर की दीवारों पर भी खून खे छीटे देखे जा सकते थे. हालाँकि सतीश उस समय घर में नहीं था. वो फरार था. इन सबूतों से पुलिस को यकीन हो गया कि सतीश ने ही इस अज्ञात बाबा की हत्या की हैं. इसके बाद पुलिस सतीश की तलाश में जुट गई. उन्हें एक मुखबिर से पता चला कि सतीश चमोली जिले के ग्राम गडोली थाना गैरसैंण के पास देखा गया हैं. इस जानकारी के आधार पर पुलिस ने सतीश को ढूंढ के गिरफ्तार कर लिया.

Sharing is caring!