Sharing is caring!

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर रायन स्कूल जैसी वारदात हुई है. गुरुग्राम के रायन स्कूल में जैसे एक छात्र ने स्कूल की छुट्टी करवाने और पैरेंट-टीचर मीटिंग टालने के लिए प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी थी, वैसा ही वाकया लखनऊ में हुआ है. इटलैंड स्कूल में मंगलवार को जो बच्चा चाकू के हमले से घायल हुआ था। उसने गुरुवार को पुलिस को बयान दिया। लड़के के मुताबिक, उसको चाकू स्कूल की ही एक सीनियर स्टूडेंट गर्ल ने मारा था। 7 साल के इस स्टूडेंट ने पुलिस को बताया- ”जब दीदी मुझे मार रहीं थीं, तब उन्होंने कहा था कि अगर तुम मर जाओगे तो स्कूल की छुट्टी हो जाएगी।”

गंभीर रूप से घायल बच्चे से मिले यूपी सीएम योगी

बुधवार सुबह स्कूल के डायरेक्टर रचित मानस ने एएसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार को फोन करके घटना की जानकारी दी। स्कूल में छात्र पर हमले की सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने स्कूल प्रबंधक की तहरीर पर केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। अलीगंज के त्रिवेणीनगर में ब्राइटलैंड स्कूल है, जहां नर्सरी से लेकर इंटरमीडिएट तक की कक्षाएं चलती हैं। त्रिवेणीनगर निवासी रमेश कुमार का छह वर्षीय बेटा स्कूल में कक्षा-एक का छात्र है। उन्होंने मंगलवार सुबह पौने दस बजे बच्चे को स्कूल छोड़ा था। प्रिंसिपल रीना मानस ने बताया कि, असेम्बली (प्रार्थना सभा) खत्म होने के बाद सभी बच्चे अपने-अपने क्लास रूम में चले गए। इसके कुछ देर बाद सिक्योरिटी इंचार्ज ने बच्चे को बाथरूम में लहूलुहान पाया।

अभिभावकों का प्रदर्शन

इस घटना के खिलाफ आक्रोश प्रदर्शित करने के लिए गुरुवार को ब्राइटलैंड स्कूल के बाहर कई छात्र-छात्राओं के अभिभावकों ने मिलकर प्रदर्शन किया। नाराज अभिभावकों ने स्कूल प्रबंधन के साथ साथ पुलिस के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की। आरोप था कि घटना के 48 घंटे बीतने के बावजूद पुलिस कोई कार्रवाई नही कर रही है। अभिभावकों का कहना था कि, जो बयान पुलिस और स्कूल प्रबंधन दे रहे हैं.लिस अब पूरे मामले की जांच कर रही है. जिस लड़की की शिनाख्त की गई है, पुलिस उससे भी पूछताछ करेगी।

Sharing is caring!