Sharing is caring!

ये बंदा हर समय कचर-पचर करता रहता है. इसकी कहानियां और बातें कभी खत्म नहीं होती. मजबूरन आपको ही इससे बचने के उपाय निकालने पड़ते हैं.

हम सभी के हर तरह के दोस्त होते हैं कुछ पढ़ने में अच्छे होते हैं, तो कुछ मौजमस्ती में. इन्हीं के बीच एक बंदा ऐसा होता है जिसका पसंदीदा काम बाते करना होता है.

इनका पसंदीदा काम लेक्चर बाजी करना होता है.

ये बंदा अपने आगे किसी और को बोलने ही नहीं देता खुद ही कचर-पचर करता रहता है.

उसके जोक्स को आप इतनी बार सुन चुके होते हैं कि अब उन पर हंसना भी आपके लिए दुश्वार हो जाता है.

एक ही बात को नए-नए तरीके से दसियों बार बताता है.

आप इसे घर ले जाने से घबराते हैं, क्योंकि ये इतना बातूनी होता है कि इसके मुंह से कुछ भी निकल सकता है.

इसमें बात करने की इतनी चुल होती है कि मजबूरन आपको कान में हेडफ़ोन लगाने पड़ते हैं.

दोस्तों को समझाने का ठेका इन्हीं ने ले रखा होता है.

ये बंदे बिना थके किसी भी टॉपिक पर कुछ भी बोल सकते हैं.

इनकी बिना सिर-पैर की बातें आपके सिर के ऊपर से चली जाती हैं.

एक ही बात को नए-नए तरीके से दसियों बार बताता है.

Sharing is caring!