Sharing is caring!

एक तरफ पूरा देश महाशिवरात्रि के रंग में डूबा हुआ था वही दूसरी तरफ एक बेहद दुःख की खबर सामने आयी साल 2018 के शुरू होने से अभी तक कई बड़ी हस्तियों ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया है और ये सिलसिला अभी तक चल रहा है. बॉलीवुड के कई अभिनेताओं ने पिछले साल दुनिया को अलविदा कह सभी को झकझोरा है. ये सिलसिला अभी थमा ही नहीं था कि और बड़ी खबर आ रही है, जिसने एक बार फिर सभी को सकते में डाल दिया है. जहां पूरा देश शिवरात्रि का जश्न मना रहा था वहीं बता दें देश के इस महान व्यक्ति का निधन हुआ है, जिसके बाद हर जगह मातम छाया हुआ है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश के इस महान व्यक्ति का निधन हुआ है जिसके बाद हर जगह मातम छाया हुआ है हाल ही में खबर मिली है कि जानेमाने चिंतक, लेखक और पत्रकार मुजफ्फर हुसैन का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 78 साल के थे। परिवार में मौजूद सूत्रों ने बताया कि हुसैन ने कल हीरानंदानी अस्पताल में अंतिम सांस ली। उन्हें 30 जनवरी को अस्पताल में भर्ती कराया था। उन्हें आज सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। वे मुसलमानों के एक वर्ग में पनपनेवाली जेहादी मानसिकता के सदैव निंदक रहे।

हुसैन का जन्म साल 1945 में राजस्थान के बिजौलिया में हुआ था, हुसैन की प्राथमिक से स्नातकोत्तर तक की शिक्षा नीमच में हुई थी. हुसैन के गुरु पं. शिवनारायण गौड़ थे. उन्होंने विक्रम विश्वविद्यालय से LLM की पढाई किया था और मुंबई यूनिवर्सिटी से LLB प्रथम की पढाई किया था.साल 1965 से ही हुसैन पत्रकारिता करने लगे थे. हुसैन की हिन्दी, अंग्रेजी और गुजराती में खूब अच्छी पकड़ थी. हुसैन औरंगाबाद से प्रकाशित हिन्दी दैनिक देवगिरी के संपादक और नवभारत टाइम्स मुंबई में संवाददाता रहे.उनका जीवन काफी सरल था लोग हमेशा उनके योगधन को हमेशा याद रखगे.

Sharing is caring!