Sharing is caring!

क्या आप जानते हैं कि योग गुरू बाबा रामदेव का भी इंस्टाग्राम अकाउंट है। बाबा रामदेव भी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बहुत अच्छी तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। भारत में हरियाणा राज्य के महेन्द्रगढ़ जनपद स्थित अली सैयदपुर नामक गाँव में वर्ष १९६५ को गुलाबो देवी एवं रामनिवास यादव के घर जन्मे रामदेव का वास्तविक नाम रामकृष्ण यादव[3][4] था। समीपवर्ती गाँव शहजादपुर के सरकारी स्कूल से आठवीं कक्षा तक पढाई पूरी करने के बाद रामकृष्ण ने खानपुर गाँव के एक गुरुकुल में आचार्य प्रद्युम्न व योगाचार्य बल्देव जी से संस्कृत व योग की शिक्षा ली। योग गुरु बाबा रामदेव ने युवावस्था में ही सन्यास लेने का संकल्प किया और रामकृष्ण, बाबा रामदेव के नये रूप में लोकप्रिय हो गए।

लेकिन क्या आपको पता था की बाबा रामदेव भी instagram जेसी सोशल नेटवर्किंग साईट पर दिखाई देंगे? बाबा रामदेव भी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बहुत अच्छी तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। बाबा रामदेव ने कुछ दिन पहले अपने इंस्टाग्राम पर एक फोटो शेयर की थी फिर उसे कुछ समय बाद ही हटा दिया।

 

उसके बाद बाबा रामदेव ने उसी तस्वीर को दुबारा से शेयर किया लेकिन इस बार उन्होंने तस्वीर को क्रॉप करके डाला। बाबा रामदेव जब यह सब कुछ कर रके थे तो उनके फालोवर्स ने उन्हें करते हुए देख लिया और उसके बाद उन सबने अलग-अलग बातें करके उनकी फिरकी लेनी शुरू कर दी।

पहले भी कई बार ऐसे जूतों में नजर आ चुके हैं
बाबा कई मौकों पर कह चुके हैं. कि वो तो भगवा और खड़ाऊं पहनने वाले संन्यासी हैं. जो व्यक्ति हिमालय की ऊंचाई पर, बर्फ के बीच खड़ाऊं पहनकर जा सकता है, वो गंगा के किनारे एकदम सामान्य स्थिति में जूते क्यों पहनता है? वैसे इंस्टाग्राम पर उनकी कई तस्वीरें हैं, जिसमें वो फुटबॉल खेलते हुए नजर आते हैं. तब भी उनके पांव में वो भूरे रंग का जूता है. फर्क बस इतना है कि उन तस्वीरों में जूते पर कोई लोगो नजर नहीं आता. क्योंकि तस्वीर सामने से ली गई है. कुछ दूर से. शायद इसीलिए तब फोटो क्रॉप नहीं की गई.

Sharing is caring!