Sharing is caring!

आज हम आपको ऐसी खबर बतायगे जिसे सुनकर आप हैरान रह जायगे.जी हां आप लोगो ने सार्वजनिक शादी के बारे में तो जरूर सुना होगा. बरहलाल आज जिस खबर से हम आपको रूबरू करवाने वाले है, वो इसी मामले से संबंधित है. गौरतलब है कि हिन्दू रीती रिवाजो से खुश हो कर बीते बुधवार को ताजनगरी में चार विदेशी जोड़ो ने बड़ी धूमधाम के साथ अपनी शादी रचाई है. वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि शादी का कार्यक्रम हनुमान मंदिर में सम्पन्न हुआ था. जहाँ ये चारो जोड़े सज धज कर तांगे में बैठ कर वहां पहुंचे थे. इसके इलावा इनके साथ इनके परिजन और दोस्त ढोल की थाप नाचे गाते हुए पीछे पीछे चल रहे थे.

शादी करने वाले एक दूल्हे डीनो ने बताया कि उन्हें इंडिया का कल्चर काफी पसंद आया. इसके बाद उन्होंने कहा कि यहाँ शादी के सभी रीती रिवाज काफी अलग है. वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि उन सब ने सबसे पहले ताजमहल के दर्शन किये यानि ताजमहल देखा.उसके बाद मंदिर में जाकर हिन्दू रीती रिवाजो के साथ शादी की. इसके इलावा डीनो का कहना है कि हमें यकीन है कि ऐसा करने से उनका रिश्ता और मजबूत हो जाएगा और उनका प्यार हमेशा बना रहेगा. इसके इलावा इससे उनके रिश्ते में कभी मनमुटाव भी नहीं होगा. गौरतलब है कि ये चारो जोड़े खास तौर पर शादी करने के लिए आगरा आये है. ऐसे में आप खुद इस बात का अंदाजा लगा सकते है, कि अब विदेश में रहने वाले लोगो के दिलो में भी भारत के रीती रिवाज किस कदर पनप रहे है. गौरतलब है कि शादी आगरा के ताजनगंज स्थित प्रिय देव दर्शन हनुमान मंदिर में हुई थी.

वैसे सभी जोड़ो में से मैनुअल और आल्मा की शादी सबसे खास रही. वो इसलिए क्यूकि शादी खत्म होने के बाद मैनुअल ने अपनी पत्नी आल्मा के पैर छुए थे. दरअसल मैनुअल का कहना है कि उन्हें हिन्दू रीती रिवाजो के साथ शादी करना काफी अच्छा लगा. इसमें पति और पत्नी जिंदगी भर एक दूसरे का साथ निभाने का वादा भी करते है. अब यूँ तो लड़की यानि दुल्हन अपने दूल्हे के पैर छूती है, लेकिन यहाँ उलटा ही हो गया. हालांकि इस बारे में मैनुअल का कहना है कि हस्बैंड को भी अपने वाइफ के पैर जरूर छूने चाहिए, क्यूकि वो हमारा इतना ख्याल जो रखती है. इसलिए उन्होंने भी अपनी पत्नी आल्मा के पैर छू लिए.

Sharing is caring!