Sharing is caring!

आज कल बच्चे बहुत सरारती हो रहे है ऐसे में एक मामला सामने आया है.हर किसी को अपना बचपन याद आता है। हम सबने अपने बचपन को जीया है। शायद ही कोई होगा, जिसे अपना बचपन याद न आता हो। बचपन जीवन का सबसे सुंदर हिस्सा है। ये वो समय होता है जब हमारी एक अलग ही दुनिया होती है। न जिंदगी की भाग-दौड़ और न ही किसी चीज की चिंता। बस अपने में ही मस्त रहना। बचपन की अपनी मधुर यादों में माता-पिता, भाई-बहन, यार-दोस्त, स्कूल के दिन के साथ साथ शैतानियां, निडर होना हर किसी को याद है। निडर यानि चोरी और चिरौरी तथा पकड़े जाने पर साफ झूठ बोलना बचपन की यादों में शुमार है। जिस किसी ने भी अपने बचपन में शरारत या नटखट नहीं की, उसने भी अपने बचपन को क्या खाक जीया होगा, क्योंकि बचपन का दूसरा नाम नटखट ही होता है।

सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो सामने आया कि वो आते ही वायरल भी होने लगा साथ ही आपको ये भी बता दें कि इस वीडियो में आपको एक जगह दिखेंगी जहां बच्‍चे एक खेत में खेलते हुए नजर आएंगे। वहां मौजूद दो बच्चे हैं उनके हाथ में कुछ सामान है।जिससे वो लोग उसी खेत में खेलते खेलते मस्‍ती में मिट्टी खोदना शुरू कर देते हैं। इतना ही नहीं उन लोगों जिस जगह पर जाकर खुदाई शुरू कर देते है। उन्‍हें लगता है कि जैसे किसी चीज को उस खेत में ढूंढ रहे है। कुछ ही समय बाद उन लोगो को खुदाई करते करते एक बड़ा सा सांप दिखाई देता है जो कि अन्य किसी और जगह से नहीं बल्कि वहीं से निकलता है जहां वो खुदाई कर रहे थे। लेकिन हैरानी की बात तो ये भी कि वो जरा भी उस साँप को देखकर न ही परेशान हुए और न ही थोड़ा भी डरे।

बल्कि वे लोग खुद अपने हाथों से पकड़कर उसे लेकर बाहर चले जाते हैं और बहुत दूर जाकर छोड़ आते है। यह वीडियो कहाँ का है, इसकी अभी पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन आपको ये भी बता दें कि सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी से देखा जा रहा है और शेयर भी किया जा रहा है.

Sharing is caring!