Sharing is caring!

आज हम आपको बताने जा रही ऐसी बात जिसे सुनकर शायद आपको गुस्सा आये लेकिन ये बिलकुल सच बात है धर्म से लेकर संस्कृति और रंग रूप से लेकर लोगों की सोच, सबकुछ अलग-अलग है। इतना अलग होने के बाद भी हर कोई यहाँ मिलकर रहता है। हालाँकि सभी लोग अपने-अपने समुदायों में रहना ज्यादा पसंद करते हैं.आज कई देशों में वेश्यावृत्ति पर क़ानूनी रूप से पावंदी लगाई जा चुकी है। इसके बाद भी लोग चोरी-छुपे वेश्यावृत्ति के काम में लगे हुए हैं। हालाँकि आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जहाँ चोरी-छूपे नहीं बल्कि शादी की अगली सुबह ही महिलाएं वेश्यावृत्ति का काम शुरू कर देती हैं। यह सुनकर लगा ना आपको भी झटका। लेकिन यह बिलकुल सही है। आज हम आपको जिस जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, वहां ऐसा सच में होता है। जैसा कि सभी लोग जानते हैं, कुछ जगहों को छोड़कर आज भी दुनिया में महिलाओं की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है। कई जगह पर महिलाओं को इस गंदे काम में जबरदस्ती भेजा जाता है.

आज हम दुसरे देश की बात नहीं कर रहे ऐसा गलत काम हमारे भारत देश में ही  किया जा रहा है.जी हाँ देश की राजधानी दिल्ली में शादी के बाद दुसरे दिन ही महिलाओं को वेश्यावृत्ति के धंधे में भेज दिया जाता है। यहाँ पर जिस दिन महिला की शादी होती है, उस दिन तो वह बहुत खुश होती है लेकिन उसके अगले दिन ही उसे वेश्यावृत्ति के धंधे में भेज दिया जाता है। हाल ही में एक मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दिल्ली के नजफगढ़ के प्रेनगर इलाके में एक समुदाय है जो शादी के अगले दिन ही महिलाओं को वेश्यावृत्ति के काम में लगा देता है।

बता दें कि हम जिस समुदाय की बात कर रहे हैं, उस समुदाय का नाम परना समुदाय है। इस समय यह समुदाय सुर्ख़ियों में छाया हुआ है। इस समुदाय में शादी को लेकर यह चलन काफी समय से चला आ रहा है। आपको यह जानकर और भी ज्यादा हैरानी होने वाली है कि यहाँ पर 15-16 की बच्चियों की शादी करवा दी जाती है उसके बाद उसे वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया जाता है.

Sharing is caring!